Get All India Board Examination Results 2020

12वीं कक्षा के बाद छात्रों के लिए सलाह

अपनी आँखों में चमकते सपने और मन में तैरते नए विचारों के साथ आप अब अपने जीवन की सबसे कठिन चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं - 12 वीं कक्षा के बाद का करियर जो आपको जीवन के अंत में आराम देने में मदद करेगा। यहां एक गलत निर्णय, एक गलत गणना आपके सपनों और उम्मीदों को चकनाचूर कर सकती है। 12 वीं कक्षा के बाद के विकल्प शानदार हैं। लेकिन यह वही है जिसे आप चुनते हैं जो आपके करियर को आगे बढ़ाएगा या खत्म कर देगा। हर दिन नए विकल्प खुलते हैं। यदि आप अपने लक्ष्य के साथ एकाग्र नहीं है तो यह विकल्प आपको भ्रमित और विचलित कर सकते हैं। 

अपने चुने हुए क्षेत्र और विषय के बारे में शोध करें

छात्रों को अपने क्षेत्र और स्ट्रीम के बारे में गहन शोध अवश्य करना चाहिए। हांलाकि आपने अधिकांश शोध संभवतः कक्षा 11 में किया है, फिर भी यह महत्वपूर्ण है कि आप और अधिक गंभीर शोध करें। माता-पिता और परिवार, सगे-संबधियों के दबाव व साथियों के साथ के कारण  कई छात्र एक विशेष स्ट्रीम का विकल्प चुन लेते हैं जो उनकी रुचि के अनुरुप होती भी नहीं है। छात्र परिवार के दबाव के कारण उस विषय को चुन तो लेते हैं लेकिन आगे उसी के बोझ तले दब जाते हैं। लेकिन अब आपका समय है, अपना निर्णय स्वंय लेने का। यदि आप विज्ञान विषय को जारी रखना चाहते हैं, तो आप चिकित्सा, इंजीनियरिंग या भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित या संबद्ध विज्ञान में स्नातक की डिग्री का विकल्प चुन सकते हैं। जिन छात्रों ने लाइफ साइंसेज या जीवविज्ञान लिया है, लेकिन वे चिकित्सा को आगे बढ़ाने की इच्छा नहीं रखते हैं, वे जैव रसायन, माइक्रोबायोलॉजी या जैव प्रौद्योगिकी में करियर का विकल्प चुन सकते हैं। कॉमर्स के छात्र चार्टर्ड अकाउंटेंसी, बीबीए या बीकॉम में कोर्स करने का विकल्प चुन सकते हैं। मानविकी यानि कला विषय को चुनने वाले छात्रों के पास विज्ञापन, पत्रकारिता, समाजशास्त्र या यहां तक कि राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के रूप में व्यापक विकल्प होंते हैं। आप इसके लिए अपने वरिष्ठों और यहां तक कि शिक्षकों से बात कर सकते हैं जो आपको मार्गदर्शन करने में मदद करेंगे। ध्यान रखिए आपका एक गलत निर्णय आपके पूरे करियर को खराब कर सकता है। 

अपने विषयों को बदलें

यह शायद आखिरी बार है जब आप अपने विषय एवं स्ट्रीम बदल सकते हैं। यहां तक कि अगर आपने अपनी चुनी हुई स्ट्रीम में उच्च अंक प्राप्त किए हैं, तो भी आप एक इंजीनियर, डॉक्टर या यहां तक कि सीए के रूप में सफल नहीं हो सकते। करियर एक विषय नहीं है, यह एक जुनून है जिसका पालन करने की आवश्यकता है। यदि सूत्र, एल्गोरिदम और गणना में कोई दिलचस्पी नहीं है, तो एक साहसिक कदम उठाएं और अपने रुचि और क्षमताओं के अनुरुप करियर चुनें। यदि आप स्कूल में एक अच्छे वक्ता थे, तो आप कानून के क्षेत्र में करियर के बारे में सोच सकते हैं, यदि आप ललित कला और थिएटर में अच्छे हैं, तो रचनात्मक क्षेत्र में करियर के बारे में सोच सकते हैं। आपको उन्हीं विषयों और स्ट्रीम का चुनाव करना चाहिए जिनमें आप अच्छें हो और जिसमें आपकी रुचि निहित हो।

एक पेशेवर करियर चुनें

सबसे स्पष्ट निर्णयों में से एक पेशेवर करियर चुनना है। आप कक्षा 12 के बाद प्रवेश परीक्षा देकर किसी भी व्यावसायिक पाठ्यक्रम का विकल्प चुन सकते हैं। कई बच्चे इंजीनियरिंग और मेडिकल पाठ्यक्रमों में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारी कक्षा 11 या उससे पहले ही तैयारी शुरू कर देते हैं। हालाँकि, आप अन्य व्यावसायिक पाठ्यक्रमों जैसे मास कम्युनिकेशन, होटल मैनेजमेंट, बीबीए और लॉ का विकल्प भी चुन सकते हैं जिसे आप कक्षा 12 के बाद भी कर सकते हैं।

वैकल्पिक विकल्प

करियर के अवसरों में कोई कमी नहीं है, जो न केवल आपकी दिलचस्पी बनाएगी बल्कि आपको जीवन में सफल भी बनाएगी। आपको बस अपने क्षमताओं को बढ़ाने की आवश्यकता है और फिर पूरा आकाश आपके लिए ही खुला है। कुछ वैकल्पिक करियर जो आप चुन सकते हैं उनमें आर्कियोलॉजिस्ट, ओशनोग्राफी, फोटोग्राफी, फिजियोथेरेपी, करियर इन स्पा थेरेपी और वेलनेस, साइकियाट्री, साइकोलॉजी, करियर इन फैशन, फार्मेसी, फूड टेक्नोलॉजी, पब्लिक रिलेशन, स्पेस साइंस, नर्सिंग, वीडियो जॉकी, होटल मैनेजमेंट और सोशल वर्क जैसे इत्यादि करियर विकल्प शामिल हैं। 

Connect me with the Top Colleges