Get All India Board Examination Results 2020

आतिथ्य पर्यटन

भारत में मेहमान को भगवान का रुप समझा जाता है। मेहमानों का स्वागत करना यहां की प्राचीन पंरपरा में निहित है। आज के समय में मेहमानों का स्वागत एक करियर का रुप ले चुका है। जिसे अतिथ्य प्रबंधन के रुप में जाना जाता है। आतिथ्य प्रबंधन में कई अलग-अलग व्यवसाय शामिल हैं, जिनमें रेस्तरां, होटल, कैसीनो, रिसॉर्ट, टूर एजेंसियां और एयरलाइंस  हैं। आतिथ्य प्रबंधन में एक डिग्री के साथ, कई अलग-अलग प्रकार के करियर हैं जिनका पीछा किया जा सकता है। कई कंपनियों ने प्रासंगिक शिक्षा के साथ उम्मीदवारों का पक्ष लेना शुरू कर दिया है। हालांकि, ऊपरी स्तर के प्रबंधन पदों के लिए व्यापक प्रशिक्षण और कार्य अनुभव आम तौर पर आवश्यक है।

आज भारत की यही प्राचीन परंपरा भरे पूरे कॅरियर का रूप ले चुकी है। इसके अंतर्गत आज होटल, रेस्टोरेंट से लेकर एयरलांइस तक हर जगह अतिथि को भगवान व अपने जॉब को पुण्य कर्म समझने वाले क्षमतावान युवाओं की दरकार है। ऑफिस रिसेप्सन से लेकर होटल, रेस्टोरेंट में खान पान व सुविधाएं, ठहरना, टूर एंड ट्रैवल्स, इवेंट प्लानिंग, क्रूज लाइनर, मैनेजमेंट, एयरलाइंस, इंटरटेनमेंट, एम्यूजमेंट पार्क तक अलग- अलग सेक्टर इस इंडस्ट्री के असर से बच नहीं पाए हैं।

इस क्षेत्र में कई अलग-अलग प्रकार के करियर हैं। आप एक जनरल मैनेजर बन सकते हैं, अन्य विकल्पों में अपना स्वयं का रेस्तरां खोलना, एक इवेंट प्लानर के रूप में काम करना, या यहां तक कि यात्रा या पर्यटन में करियर बनाना शामिल है। होटल इंडस्ट्री अपने आप में काफी बड़ा क्षेत्र है, जिसमें प्रबंधन, खानपान, हाउसकीपिंग, फ्रंट ऑफिस ऑपरेशन, सेल्स एंड मार्केटिंग लेखा-जोखा विभाग, फॉरेस्ट लॉजेज, होटल और पर्यटन असोसिएशं, कैटरिंग, गेस्ट हाउस, एयरलाइन कैटरिंग तथा कैबिन क्रू सर्विस और होटल तथा रेस्टोरेंट प्रबंधन विभाग में काम करने का मौका मिलेगा।

होटल उद्योग में अभी भी कुशल नौकरी चाहने वालों को समायोजित करने के लिए एक बड़ी जगह है। वैश्वीकरण के आगमन ने इसे और अधिक संभव बना दिया है और कंपनियां होटल प्रबंधन संस्थानों से अधिक से अधिक नवोदित छात्रों को रोजगार देने के लिए तैयार हैं।

कोई सोच सकता है कि यह सबसे ग्लैमरस उद्योगों में से एक है, लेकिन तथ्य यह है कि एक व्यक्ति को अपने मेहमानों की जरूरतों की आशंका होने पर भी पैर की उंगलियों पर रहना पड़ता है और स्थितियों में सबसे कठिन परिस्थितियों में भी एक सहज नौकायन बनाने की कोशिश करता है।

हॉस्पिटेलिटी इंडस्ट्री असल में सर्विस सेक्टर या सेवा क्षेत्र का ही एक रूप कहा जा सकता है, जो वर्तमान में रोजगार का बेहतर विकल्प साबित हो रहा है। इस इंडस्ट्री में रोजगार के अनगिनत मौके मौजूद हैं। 

हॉस्पिटेलिटी और टूरिज्म लगातार बदलने और विकास करने वाली इंडस्ट्री है। इसमें करियर बनाने के लिए आपके के अंदर ये निम्नलिखित खूबियां होनी चाहिए। जैसे:- ताजा ट्रेंड के साथ चलना, सभी मेहमानों का भरपूर सत्कार करना, चेहरे पर  सदैव मुस्कान, काम की प्रजेंटेशन बढ़िया होना और क्विक सर्विस करना आदि।

12वीं के बाद ही अतिथ्य पर्यटन में करियर बनाने के लिए आप होटल मैनेजमेंट का डिग्री कोर्स से इस फील्ड में कदम रख सकते हैं। होटल मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स भी किया जा सकता है।
हॉस्पिटेलिटी इंडस्ट्री असल में सर्विस सेक्टर या सेवा क्षेत्र का ही एक रूप कहा जा सकता है, जो वर्तमान में रोजगार का बेहतर विकल्प साबित हो रहा है। इस इंडस्ट्री में रोजगार के अनगिनत मौके मौजूद हैं। 

हॉस्पिटैलिटी टूरिज्म में करियर की पूरी सूची जानने के लिए नीचे क्लिक करें

Connect me with the Top Colleges