Get All India Board Examination Results 2021

खेल फोटोग्राफर

एक फोटोग्राफर अपनी एक फोटो के जरिए हजार शब्दों को कह देता है। फोटोग्राफी वो कला है जो कई शब्दों के बराबर है। कहा जाता है कि यदि किसी फोटो को सही ढंग से पेश किया जाए, तो वह हजार शब्दों से बढ़कर है। यानी एक फोटो अकेले बहुत कुछ बयां कर सकता है। फोटोग्राफी ने वर्षों के अपने सफर में कई तकनीकी बदलाव देखे हैं लेकिन कुछ नहीं बदला है, तो वह है इसका महत्व। समय के साथ फोटोग्राफी में नए-नए क्षेत्र जुड़ते चले जा रहे हैं। इनमें फैशन फोटोग्राफी, ट्रैवल फोटोग्राफी, फूड फोटोग्राफी, स्पोर्ट्स फोटोग्राफी, वेहिकल फोटोग्राफी, इवेंट फोटोग्राफी, आर्किटेक्चर फोटोग्राफी, वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी, न्यूज फोटोग्राफी आदि प्रमुख हैं।

फोटोग्राफी के विभन्न क्षेत्रों में से एक खेल फोटोग्राफी भी है जो केवल खेल एवं खिलाड़ियों से जुड़ी चीजों को ही कैमरे पर उतारती है। एक खेल फोटोग्राफर ना केवल किसी एक खेल के प्रति बारीकी से समझ रखता है बल्कि उसके उपर यह भी जिम्मेदारी होती है कि वो जिस खेल की तस्वीर ले रहा वो उस जगह एवं खेल को परिभाषित कर भी रही है या नहीं। एक खेल फोटोग्राफर के लिए समय की महत्वता अधिक होती है उसे एक ही समय पर कई फोटो लेनी पड़ती है। खेल के हर एक क्षण की तस्वीर बहुत कुछ कह जाती है।

खेल आयोजन के दौरान खेल फोटोग्राफर फोटो खींचते हैं। खेल फोटोग्राफर फ्रीलांसरों के रूप में काम कर सकते हैं और पत्रिकाओं और समाचार पत्रों को अपना काम बेच सकते हैं। एक खेल फोटोग्राफर के रूप में आप विभिन्न खेल आयोजनों की फोटोग्राफिक छवियों को कैप्चर करेंगे। खेल फोटोग्राफरों को एक्शन की उच्च गुणवत्ता वाली छवियों पर ध्यान केंद्रित करने और कैप्चर करने के लिए अपने कैमरों को जल्दी से स्थानांतरित करने और समायोजित करने में सक्षम होना चाहिए। वे बाहरी घटनाओं और स्टेडियमों, एरेनास और जिम के अंदर कृत्रिम प्रकाश में प्राकृतिक प्रकाश व्यवस्था के लिए समायोजित करते हैं।

स्पोर्ट्स फोटोग्राफर के लिए कौशल

  • उपकरणों का ज्ञानः प्रकाश व्यवस्था, स्थिति और कैमरा तकनीक का ज्ञान; फोटो संपादन विशेषज्ञता; एक गतिशील फ़ोटोग्राफ़िक पोर्टफोलियो बनाए रखना खेल फ़ोटोग्राफ़र के लिए कुछ महत्वपूर्ण कौशल हैं।
  • तकनीकी ज्ञानः फिल्टर और सेटिंग्स को इस्तेमाल करके ही फोटोग्राफर किसी पिक्चर को कैप्चर करते हैं। इसी के साथ अच्छा फोटो खींचने के लिए कई चीजों के समायोजन की जरूरत होती है। जैसे कैमरे की क्वॉलिटी, सब्जेक्ट, लाइटिंग, कैमरामैन का कौशल आदि। डिजिटल कैमरों में फिल्मों के अलावा इलेक्ट्रॉनिक मेमरी का इस्तेमाल किया जाता है। इन तकनीकों की जानकारी होना आज के समय में जरूरी है।
  • धैर्य होनाः  तनावपूर्ण माहौल हो या भीड भरे इलाके, फोटोग्राफर्स को अच्छे परिणाम देने में सक्षम होना पडता है। न सिर्फ फोटोग्राफरों को अकेले कार्य करना पडता है बल्कि विभिन्न क्षेत्रों के लोगों से भी संपर्क में रहना पडता है इसलिए खेल फोटोग्राफर के पास धैर्य होना चाहिए।

खेल फोटोग्राफर के लिए शैक्षणिक योग्यता

कुछ खेल फोटोग्राफर फोटोग्राफी या पत्रकारिता में स्नातक की डिग्री के साथ पेशे में प्रवेश करते हैं, जबकि अन्य 1 साल के गहन प्रमाणपत्र कार्यक्रम से गुजरते हैं जो फोटोग्राफी के शिल्प पर केंद्रित है। कुछ एक फोटोग्राफर के रूप में काम शुरू करने के लिए आवश्यक तकनीकी कौशल और व्यावसायिक ज्ञान सीखने के लिए एक सहयोगी डिग्री प्राप्त करते हैं। हालांकि सर्टिफिकेट कोर्स 12वीं के बाद भी किया जा सकता है। खास बात यह है कि यह कोर्स किसी भी स्ट्रीम के युवा कर सकते हैं। देश के कई संस्थान स्टिल तथा मोशन फोटोग्राफी में डिप्लोमा, पीजी डिप्लोमा या सर्टिफिेकट कोर्स ऑफर कर रहे हैं। अधिकांश डिग्री और सर्टिफिकेट प्रोग्राम फिल्म और डिजिटल कैमरों का उपयोग करने के बारे में शोध प्रदान करते हैं, जिसमें अंधेरे कमरे में प्रयोगशाला का अनुभव और फोटो हेरफेर सॉफ्टवेयर के साथ काम करना शामिल है। अन्य वर्गों में प्रकाश व्यवस्था, रंग पसंद, विषय की स्थिति और तकनीकी उपकरणों का उपयोग शामिल है। 

भारत में खेल फोटोग्राफर की करियर संभावनाएं

अगर आप इस क्षेत्र में कुछ खास करना चाहते हैं तो आपका क्रिएटिव होना पहली शर्त है। इसके साथ ही आपको थोड़ी-बहुत तकनीकी जानकारी भी होनी चाहिए। जो लोग कड़ी मेहनत और धैर्य रखना जानते हैं यह क्षेत्र उन्हीं के लिए है। खास बात है कि आपके पास ऐसी कला भी होनी चाहिए कि आप एकसाथ क्लाइंट, एडवर्टाइज़र, पब्लिशिंग एजेंसी और डिज़ाइनर के साथ आसानी से डील कर सकें।  आजकल फटॉग्रफी की फील्ड में फैशन फटॉग्रफी से लेकर पोर्टफोलियो फटॉग्रफी और यहां तक कि प्री-वेडिंग फटॉग्रफी और प्रेग्नेंसी फटॉग्रफी भी काफी ट्रेंड में है। यही कारण है कि इस समय इंडस्ट्री में फोटोग्राफर्स की खासी डिमांड है। इतना ही नहीं, अगर आपकी फटॉग्रफी अच्छी है, तो नाम के साथ ही आप ढेरों पैसे कमाते हैं।

खेल फोटोग्राफर स्वतंत्र फ्रीलांसरों के रूप में काम कर सकते हैं। वे प्रत्येक टूर्नामेंट के लिए असाइनमेंट ले सकते हैं और फिर विभिन्न मीडिया हाउसों के साथ छवियों को बेच या साझा कर सकते हैं। कुछ को भारत में समाचार पत्रों या खेल पत्रिकाओं के साथ पूरा समय दिया जाता है। इन दिनों भी ऑनलाइन साइटों में विशिष्ट खेल फोटोग्राफर हैं। खेल फोटोग्राफर, जो पत्रकारों के रूप में भी काम करते हैं, फोटो जर्नलिस्ट के रूप में जाने जाते हैं, अपनी तस्वीरों को पूरक करने के लिए लेख लिखते हैं। आप किसी भी माध्यम से जुड़ कर फोटोग्राफी में करियर बना सकते हैं।

Connect me with the Top Colleges