Get All India Board Examination Results 2020

वेटर एवं वेट्रेस

यदि आपके पास आकर्षक व्यक्तित्व और लोग कौशल है, यदि आप लोगों से बात करने में हिचकिचाते नहीं है, आप के अंदर अच्छी सहनशक्ति एवं मुस्कुराते रहने की क्षमता है तो आप वेटर या वेट्रेस के रुप में शानदार करियर बना सकते हैं। एक कैफे या रेस्तरां की लोकप्रियता के लिए केवल स्वादिष्ट भोजन और आरामदायक वातावरण पर्याप्त नहीं है। कई आगंतुकों के लिए सेवा की गुणवत्ता एक रेस्तरां का दौरा करते समय सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से एक है। यह कोई छोटा पेशा नहीं होता बड़े-बड़े होटलों में इनकी मांगे रहती है जहां अच्छी सैलरी मिलती है। वेटर और वेट्रेस, जिन्हें सर्वर भी कहा जाता है, यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार होते हैं कि ग्राहकों को संतोषजनक भोजन का अनुभव प्रदान हो। वह ग्राहकों की इच्छाओं की पूर्ति करते हैं। 
 

वेटर एवं वेट्रेस की भूमिका

  • ग्राहकों का स्वागत करना, मेनू प्रस्तुत करना, और ग्राहकों को दैनिक विवरण समझाना।
  • मेनू आइटम से संबंधित प्रश्नों के उत्तर देना और खाने की सिफारिशें करना।
  • ग्राहकों से भोजन और पेय आदेश लेना।
  • रसोई कर्मचारियों को लिए भोजन और पेय के आदेश देना।
  • पेय और भोजन गार्निश तैयार करना।
  • किचन से लेकर डाइनिंग टेबल तक खाने या पेय की ट्रे ले जाना।
  • ग्राहकों के भोजन खत्म करने के बाद गंदे व्यंजन और गिलास और साफ टेबल साफ करनना।
  • आइटमयुक्त चेक तैयार करना और उन्हें ग्राहकों को सौंपना और उसका भुगतान लेना। 
  • भोजन क्षेत्रों को साफ और सेट करना, मसालों को फिर से भरना, चांदी के बर्तन और स्टॉक सेवा क्षेत्रों को रोल करना।

वेटर एवं वेट्रेस के कौशल

संचार कौशल: वेटर और वेट्रेस को ग्राहकों के विशिष्ट अनुरोधों को ध्यान से सुनना चाहिए, और उन्हें ग्राहकों से मिलने वाली जानकारी को रसोई कर्मचारियों को देना होता है, ताकि ग्राहकों की संतुष्टि के लिए ऑर्डर तैयार किए जा सकें।

ग्राहक और व्यक्तिगत-सेवा कौशल: वेटर और वेट्रेस अपना अधिकांश समय ग्राहकों की सेवा में लगाते हैं। उन्हें दोस्ताना और विनम्र होना चाहिए और ग्राहकों के साथ एक प्राकृतिक तालमेल विकसित करने में सक्षम होना चाहिए।

अच्छी स्मृति: वेटर और वेट्रेस को ग्राहकों के आदेश सीधे रखने चाहिए। उन्हें अक्सर ग्राहकों के चेहरे, नाम और खाने और पीने की वरीयताओं को याद करने में भी सक्षम होना चाहिए।

लोग कौशल: वेटर और वेट्रेस को विनम्र, व्यवहार कुशल और चौकस होना चाहिए क्योंकि वे सभी परिस्थितियों में ग्राहकों के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं।

शारीरिक सहनशक्ति: वेटर और वेट्रेस को भारी ट्रे, बर्तन, और कांच के सामान ले जाने में अपने कई घंटे खर्च करने में सक्षम होना चाहिए। देर तक काम करने की सहनशक्ति होनी चाहिए।

टीम उन्मुख: व्यस्त काम के घंटे और तेज़ हो सकते हैं, श्रमिकों को एक टीम को अच्छी तरह से काम करने में सक्षम होना चाहिए ताकि ग्राहकों का स्वागत हो और शीघ्र सेवा प्राप्त हो।

अच्छी तरह से तैयार और साफ उपस्थिति: वेटर और वेट्रेस भोजन सेवा और पीने के प्रतिष्ठानों में ग्राहक सेवा की अग्रिम पंक्ति हैं, एक साफ उपस्थिति अक्सर महत्वपूर्ण होती है।

वेटर एवं वेट्रेस की शैक्षणिक योग्यता

वेटर के रुप में करियर बनाने के लिए उच्च शिक्षा की आवश्यकता नहीं होती आपके अंदर सिखने का कौशल होना चाहिए। आप होटल मैनेजमेंट का कोर्स भी कर सकते हैं। होटल मैनेजमेंट कोर्स में दाखिला लेने की न्यूनतम योग्यता 12वीं है, लेकिन अगर आप ग्रेजुएशन के बाद होटल इंडस्ट्री में करियर बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आप एमएससी इन होटल मैनेजमेंट और पीजी डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट कोर्स कर सकते हैं। 

वेटर एवं वेट्रेस की करियर संभावनाएं

वेटर या वेट्रेस के रुप में आप कई बड़े होटल एवं रेस्ंत्रा में करियर बना सकते हैं।  होटल, रेस्तरां/ फास्ट फूड ज्वाइंट, क्लब मैनेजमेंट/ रिक्रिएशन एंड हेल्थ केयर मैनेजमेंट, क्रूज शिप होटल, हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन एंड केटरिंग, इंस्टीट्यूशनल एंड इंडस्ट्रियल केटरिंग, एयरलाइन केटरिंग एंड केबिन सर्विसेज आदि जगहों पर नौकरी के अवसर मौजूद हैं।

पाक कला और व्यक्तिगत सेवाओं के अन्य करियर विकल्पों की सूची के लिए नीचे क्लिक करें

Connect me with the Top Colleges