Get All India Board Examination Results 2020

उद्घोषक

उद्घोषक से अभिप्राय अनाउंसर से है जो किसी घटना, समाचार या रिपोर्ट की अपने आवाज के द्वारा घोषणा करता है। अकस्र आपने रेडियो, टेलिविजन चेनलों, सार्वजनिक जगहों, रेलवे स्टेशनों पर किसी बात की सूचना देती हुई आवाज को सुना होगा। उस सूचना देने वाले को ही उद्घोषक कहा जाता है। यह उद्षोषणा राजनीति से लेकर मनोरंजन तक, समाजिक घटनाओं से लेकर  खेल तक की हो सकती है। हालांकि, एक उद्घोषक की भूमिका केवल उद्घोषित समाचार तक सीमित नहीं है। उद्घोषक वॉयस एक्टर्स यानि आवाज के जादूगर होते हैं। वे समाचार, संगीत और स्क्रिप्ट को इस तरीके से पेश करते हैं कि आप केवल उनकी आवाज और बोलने का ढंग सुनकर ही चैनल बदले बिना पूरा दिन व्यस्त रहेगें।

यदि आपके पास भी बोलने का कौशल है, आपकी भाषा में भी भाषागंत अशुद्धिया नहीं है और आवाज का जादू आप अपमनो श्रोताओं पर बिखेरना चाहते हैं तो उद्घोषक का करियर आपके लिए ही है। यह एक ऐसा करियर विकल्प है जो केवल आपकी आवाज के द्वारा ही पहचाना जाएगा। इस क्षेत्र में करियर को लेकर अपार संभावनाएं है। इस क्षेत्र के विशेषज्ञों की आवाज में भी विकास की संभावनाएँ होती हैं। वे एनीमेशन फिल्मों, कई देशों और कई भाषाओं के लिए बनाई गई फिल्मों को आवाज देते हैं। आपने कई तरह की डब फिल्मों को देखा होगा उसमें आवाज देने वाले कलाकर एक तरह के उद्घोषक ही होते हैं। आज जादू बिखेरने वाली आवाज की बहुत मांग है। यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपनी आवाज को किस तरह से ढाल कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर देते हैं। 

वाणिज्यिक आवाज बहुत मांग के बाद और विशेष रूप से अच्छी तरह से भुगतान की जाती है, अगर आपके पास अद्वितीय आवाज है तो यह करियर आपके लिए अच्छा करियर विकल्प होगा। जिस तरह एक अभिनेता एक दृश्य अध्ययन, अभ्यास के माध्यम से एक संगीतकार के माध्यम से सुनता है, उसी तरह एक आवाज कलाकार को अपने शिल्प को सही करने के लिए हर रोज जोर से पढ़ना चाहिए। ऐसा करने से आपकी आवाज की अशुद्धियां दूर होगीं और आप साफ-सरल रुप से उद्घधोषणा कर पाएगें।

एक उद्घोषक की भूमिका

  • उद्घोषक पटकथा या या एड लिब कमेंट्री पढ़ते हैं।
  • साक्षात्कार या चर्चा और बहस के बीच मध्यांतर बनते हैं।
  • स्टेशन कार्यक्रम, मौसम अपडेट या समाचार की घोषणा करते हैं।
  • खेल की घटनाओं या किसी भी टॉक शो के मॉडरेटर के दौरान टिप्पणी करते हैं।
  • लाइव पार्टी और कॉर्पोरेट इवेंट होस्ट करते हैं।
  • शो के दौरान चर्चा के लिए शोध विषय और कभी-कभी स्क्रिप्ट भी लिखते हैं।


एक उद्घोषक के लिए आवश्यक कौशल

वक्तृत्व कौशल: एक उद्घोषक का मुख्य काम एक शो या संगीत को पेश करना होता। संदेश को सही बारीकियों के साथ सही तरीके से जोड़ना सबसे महत्वपूर्ण होता है इसके लिए आप का वाक् कौशल अच्छा होना चाहिए। यदि आप साफ-सरल रुप में बोल सकते हैं तो आप अधिक से अधिक लोगों को अपनी आवाज के प्रति आकर्षित कर सकते हैं।

समझ:  एक उद्घोषक के लिए लिखित लिपियों को समझना और उन्हें सही स्वर में प्रस्तुत करना महत्वपूर्ण होता है यदि वो किसी लिखी हुई पटकथा को सही से नहीं समझ पाता तो वह सही प्रकार से बोल भी नहीं पाएगा इसलिए उसे समझना बहुत जरुरी है।

लेखन कौशल: उद्घोषक को मजबूत लेखन कौशल की आवश्यकता होती है क्योंकि कभी-कभी उन्हें अपनी स्क्रिप्ट लिखने के लिए आवश्यक होता है इसके लिए  भाषा पर अच्छी पकड़ और लेखन कौशल आवश्यक है।

सुनने की शक्तियां: अच्छे बोलने के कौशल के साथ-साथ किसी के पास उत्कृष्ट सुनने का कौशल भी होना चाहिए। लोग जो कह रहे हैं उसे समझने की क्षमता और चर्चा की बागडोर संभालना महत्वपूर्ण है। एक उद्घोषक के पास यह कौशल होना चाहिए।

सामान्य जागरूकता: एक उद्घोषक को उसके आसपास होने वाली नवीनतम घटनाओं के बारे में पता होना चाहिए। रंगमंच, खेल, संगीत, व्यवसाय, राजनीति और अन्य विषयों का ज्ञान सफलता के अवसरों को बेहतर बनाता है।

संचार कौशल: हर तबके के लोगों के साथ संवाद करने की क्षमता और उन्हें बातचीत, चर्चा और बहस में व्यस्त रखना एक उद्घोषक  को आना चाहिए। अच्छे सार्वजनिक संबंध और पारस्परिक कौशल इसके लिए बहुत आवश्यक हैं।

कंप्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक्स ज्ञान: उद्घोषक के लिए यह एक आवश्यक शर्त नहीं है लेकिन कंप्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों, प्रोसेसर, सर्किट बोर्ड और कंप्यूटर अनुप्रयोगों का ज्ञान वांछनीय है। हांलांकि कोई व्यक्ति काम के दौरान उपकरणों को संभालना सीख सकता है।

एक उद्घोषक  की पक्ष और विपक्ष की बातें

पक्ष
  • व्यापक दर्शकों के साथ बातचीत करने का अवसर।
  • सार्थक बहस में व्यस्त महत्वपूर्ण मेहमानों और मशहूर हस्तियों का साक्षात्कार।
  • श्रोताओं के साथ एक विशेष संबंध बनाना।
  • विशेष रूप से डीजे और टॉक शो होस्ट के लिए अच्छी तरह से भुगतान की जाने वाली नौकरी।
  • लचीले काम के घंटे।
विपक्ष
  • विशेष रूप से सार्वजनिक प्रणाली के उद्घोषकों के लिए लंबे समय तक काम करना।
  • लाइव शो करने वाले उद्घोषक के लिए विशेष रूप से यात्रा के करनी पड़ती है।
  • कोई निश्चित कार्य समय नहीं होता।

शैक्षणिक योग्यता

एक उद्घोषक बनने के लिए आपको कक्षा 12वीं के बाद पत्रकारिता या रेडियों जॉकी, एकंर किसी में भी डिग्री या डिप्लोमा करना होता है। आप चाहें तो कई सर्टिफिकेट कोर्स भी कर सकते हैं। एक अच्छा उद्घोषक बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण स्वंय पर विश्वास और भाषा पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। आप कोर्स के साथ प्रैक्टिस करके अपनी कमियो को सुधार सकते हैं। 

करियर संभावनाएं

एक उद्घोषक के लिए करियर की कई संभावनाएं है वह टीवी होस्ट, एंकर, रेडियो जॉकी, स्टेशन के अनाउंसर, वीजे, एवं कार्यक्रमों में मध्यस्थ बनकर इत्यादि में करियर बना सकता है। 

मीडिया एवं संचार के अन्य करियर विकल्पों की सूची के लिए नीचे क्लिक करें

मीडिया एवं संचार के अन्य करियर विकल्पों की सूची के लिए नीचे क्लिक करें


Connect me with the Top Colleges