Get All India Board Examination Results 2020

समाज सेवक

क्या आप कुछ रोमांचक और उसी समय चुनौतीपूर्ण करना चाहते हैं। क्या आप बचपन में हमेशा महसूस करते थे कि आपको समाज के लिए कुछ करना चाहिए। क्या समाज की सेवा करने का जूनून आपके अंदर है तो फिर सामाजिक कार्यकर्ता बनना आपके लिए एक आदर्श करियर विकल्प है। सोशल वर्क एक जमाने में लोगों द्वारा मिशन के रूप में नि:स्वार्थ भावना से किया जाता था, लेकिन बदलते समय और सामाजिक जरूरतों ने आज इसे बकायदा एक प्रोफेशन बना दिया है। दुनिया में सबसे सुकून भरा करियर विकल्प अगर कोई है तो वो है दूसरों की मदद करने वाला समाज सेवक का कार्य। आज के समय में लोगों के पास धन-दौलत और दुनिया भर की सुख सुविधाएं तो है लेकिन शांति और सुकून नही है। शायद इसलिए हर साल सैकड़ों होनहार लोग अपनी लाखों की नौकरी छोड़कर किसी गांव, आदिवासी क्षेत्र और छोटी सी जगहों में गरीबों, असहायों और जरूरतमंदों के लिए काम करते है ताकि उन्हें आत्मिक शांति मिल सके। 

सोशल वर्क एक रोमांचक करियर विकल्प है इसके अलावा, यह आपको विभिन्न समय में लोगों की मदद करने की सुविधा देता है। सामाजिक कार्य को करियर विकल्प के रूप में चुनकर, आप शुरू में छोटे स्तर पर परिवर्तन लाने का कार्य कर सकते हैं जो समय आने पर बड़े और अच्छे परिवर्तन के रुप में समाज के सामन  होगा। 
सामाजिक कार्यकर्ता कौन होता है

एक सामाजिक कार्यकर्ता एक ऐसा व्यक्ति है जिसे पेशेवर रूप से व्यक्तियों की मदद करने के लिए चुना जाता है। वह इसे करियर के रुप में अपना कर लोगों की मदद कर सकता है। इनके व्यक्तिगत एवं समाजिक मुद्दों का समाधान कर सकता है। आज के समय में सोशल वर्क का कार्य एक पूर्ण करियर के रुप में उभर कर सामने आया है। आज सोशल वर्क का मतलब सिर्फ गरीबों और जरूरमंदों की मदद करना ही नही रह गया है बल्कि यह एक बेहतरीन पेशेवर करियर विकल्प बन गया है। विश्व-भर में हजारों की संख्या में समाज कार्य करने वाले एनजीओ इस क्रम में अस्तित्व में आ चुके हैं। और तो और इस प्रकार के कार्यकलापों की विशेषज्ञता के अनुसार बैचलर्स और मास्टर्स डिग्री स्तर के अलावा भी तमाम कोर्सेज अब यूनिवर्सिटी और अन्य संस्थानों द्वारा संचालित किये जा रहे हैं। बुनियादी तौर पर इस प्रोफेशन को सामाजिक न्याय, समाज के उपेक्षित वर्ग को मुख्यधारा में शामिल करने, दलित, वंचित लोगों के जीवन स्तर में उत्थान के प्रयास करने तथा समाज के प्रत्येक वर्ग के लोगों को उनकी क्षमताओं के अनुसार विकसित होने के लिए मार्ग प्रशस्त करने की प्रतिबद्धता के तौर पर भी देखा जा सकता है। इस क्रम में उन्हें सामाजिक सुरक्षा के अलावा भावनात्मक समर्थन देना भी शामिल है।

सामाजिक कार्यकर्ता के कार्य

अन्य कार्य क्षेत्रों की भांति सोशल वर्क के क्षेत्र में भी अब विशेषज्ञता का दौर आ चुका है। इन विशिष्ट क्षेत्रों में चिकित्सीय एवं मनोवैज्ञानिक सोशल वर्क,अपराधियों को सुधारने पर आधारित समाज कार्य, शहरी और ग्रामीण समुदाय विकास से जुड़े मानव कल्याण के कार्य, परिवार एवं बाल विकास, पुनर्वास, मानव अधिकार एवं सामाजिक कर्तव्य, प्राकृतिक आपदा में बचाव संबंधित कार्य, नशे की लत से मुक्ति दिलाने पर आधारित कार्य, अशिक्षा दूर करने से जुड़े काम, घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं के सबलीकरण पर आधारित कार्य, मानसिक एवं शारीरिक तौर पर विकलांग लोगों के पुनर्वास से संबंधित समाज कार्य आदि का खास तौर पर उल्लेख किया जा सकता है।
करियर के रूप में सामाजिक कार्य को उन सेटिंग्स के आधार पर समूहों में वर्गीकृत किया जा सकता है जो वे काम करते हैं:
  • अस्पतालों में सामाजिक कार्यकर्ता- रोगियों और परिवारों को स्वास्थ्य देखभाल विकल्पों को समझने और बनाने में मदद करते हैं।
  • सामाजिक कार्यकर्ता उन परिवारों के साथ काम करते हैं जो घरेलू समस्याओं का सामना कर रहे हैं। यह  कभी-कभी उन्हें कानूनी सहायता प्रदान भी करते हैं।
  • सामाजिक कार्यकर्ता गरीबी, बाल शोषण और घरेलू हिंसा जैसे सामाजिक मुद्दों के समाधान के लिए कार्यक्रमों के विकास, कार्यान्वयन और मूल्यांकन में मदद करते हैं।

एक सामाजिक कार्यकर्ता की भूमिका

  • व्यक्तियों को शिक्षित करना।
  • बीमारी, विकलांगता या मृत्यु से निपटने के लिए परामर्श प्रदान करना।
  • कानूनी सहायता प्रदान करना।
  • समुदाय में व्यक्तिगत और संसाधनों के बीच एक कड़ी के रूप में कार्य करता है।
  • सामाजिक मुद्दों पर शोध करना और उनका समाधान करना।

एक सामाजिक कार्यकर्ता के कौशल

करुणा: एक सामाजिक कार्यकर्ता को लोगों के प्रति संवेदनशील होना चाहिए। चूंकि सामाजिक कार्यकर्ता को लोगों के साथ काम करना पड़ता है, इसलिए उन्हें दया और सहानुभूति होनी चाहिए।

श्रवण कौशल: सामाजिक कार्यकर्ता को एक अच्छा श्रोता होना चाहिए। आप केवल तभी समाधान ढूंढ पाएंगे जब आप उस कारण को जानते हैं जिसके लिए सुनना बहुत महत्वपूर्ण है।

लोगों के साथ काम करने का कौशलः विभिन्न पृष्ठभूमि के लोगों के साथ काम करने में सामाजिक कार्यकर्ता को सक्षम होना चाहिए। लोगों के साथ बातचीत करने का कौशल होने से स्वस्थ और उत्पादक संबंध बनाने में मदद मिलती है।

समस्या को सुलझाने का कौशलः एक सामाजिक कार्यकर्ता के अंदर समस्याओं को सुलझाने का कौशल होना चाहिए। समस्याओं को हल करने के लिए एक दृष्टिकोण में अभिनव होना चाहिए।

संगठनात्मक कौशल: किसी भी तरह का काम करने के लिए, संगठन बहुत महत्वपूर्ण है। यह कुशल और सुव्यवस्थित तरीके से काम करने में मदद करता है।

समय-प्रबंधन कौशल: सामाजिक कार्यकर्ता एक समय में बहुत सारे काम करते हैं, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि वे अपना समय सभी को सेवाएं प्रदान करने के लिए एक कुशल तरीके से विभाजित करें।

सामाजिक कार्यकर्ता होने के पक्ष और विपक्ष की बातें

पक्ष

पेशेवर संतुष्टि।
अपने पूरे करियर में विभिन्न सेटिंग्स में काम करें।
आत्मसम्मान का निर्माण करता है।
आपको विनम्र और निस्वार्थ बनाता है।
समूह, समुदाय या समाज के विभिन्न वर्गों के लोगों से मिलना।
दूसरों के प्रति सहिष्णु होना सीखता है।
सुविधाजनक काम के घंटे।

विपक्ष

अन्य नौकरियों की तुलना में औसत दर्जे का भुगतान।
विभिन्न और सीमित सेटिंग्स में काम करना है, कभी-कभी अप्रिय कार्य भी करना।
सुरक्षा को लेकर चिंतित होना।
भावनात्मक रूप से तनावपूर्ण होना।

आवश्यक शैक्षिक योग्यता

सोशल वर्क का अर्थ समाज के लिए काम करना, चाहे आप किसी जागरूकता के लिए एक इवेंट ओर्गनइस करे, चाहे आप किसी अकेले व्यक्ति की आजादी के लिए कुछ भी करे। सोशल वर्क के डिग्री कोर्स स्नातक और दूसरी मास्टर है। इस कोर्स को करने के बाद आप किसी भी एनजीओ में काम कर सकते है या फिर आप कही भी किसी भी मिनिस्ट्री में काम भी कर सकते है। 

सामाजिक कार्यकर्ता की करियर संभावनाएं

आज जिस तरह से डिसेबिलिटी, ड्रग्स, डिप्रेशन और बुजुर्गों की समस्याएं बढ़ रही हैं, उसे देखते हुए समाजसेवा में युवाओं की काफी दरकार है। सोशल सेक्टर में काम करने वाले प्रोफेशनल्स को लोगों की आर्थिक, सामाजिक और मानसिक समस्याओं को जानना, समझना और फिर उसका हल निकालना होता है। इसे काउंसलिंग, कॉन्फ्रेंस, सेमिनार, अवेयरनेस प्रोग्राम्स के जरिए पूरा किया जाता है। इसके अलावा सोशल वर्कर जरूरतमंदों तक संसाधन भी पहुंचाते हैं। सरकारी और गैर सरकारी, दोनों ही क्षेत्रों में संभावनाएं हैं। इस क्षेत्र में एनजीओ मैनेजर, कम्युनिटी सर्विस प्रोवाइडर, एनजीओ प्रोजेक्ट कॉओर्डिनेटर, एनजीओ ह्यूमन रिसोर्स और फाइनेंस मैनेजर के तौर पर भी काम कर सकते हैं। मिनिस्ट्री ऑफ यूथ अफेयर, एसओएस विलेज, फिक्की, अमर ज्योति चेरिटेबल ट्रस्ट, प्रयास, एएफएआरएम में नौकरी की तलाश कर सकते हैं।
इसके अलावा, रूरल हेल्थ केयर सेक्टर, एड्स अवेयरनेस प्रोजेक्ट, चाइल्ड एब्यूज प्रिवेंशन कमिटी, ड्रग रिहेबिलिटेशन सेंटर, स्ट्रीट चिल्ड्रन एजुकेशन, सेक्स वर्कर फोरम में भी कार्य करने का अवसर होता है। इसके अलावा सोशल वर्क की फील्ड में विदेशी संस्थाओं से जुड़कर कार्य करने का भरपूर अवसर होता है।


Connect me with the Top Colleges