कृषि वैज्ञानिक

क्या आप खेतों की फसलों और जानवरों के अध्ययन में रुचि रखते हैं?  क्या आप खाद्य उत्पादन की गुणवत्ता और मात्रा में सुधार करना चाहते हैं?  क्या आप जैव प्रौद्योगिकी का उपयोग कर नए उत्पादों के लिए अनुसंधान और विकास का एक हिस्सा बनना चाहेंगे?  तो आप कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों के रूप में करियर का विकल्प तलाश सकते हैं क्योंकि आपके सवालों का जवाब कृषि वैज्ञानिक के रुप में ही मिलगा। वे कृषि और खाद्य उत्पादन में समस्याओं का समाधान करते हैं। कृषि विज्ञान का जैविकीय विज्ञान से निकट का संबंध है, तथा कृषि वैज्ञानिक कृषि से जुड़ी समस्याओं को हल करने में जीवविज्ञान, रसायन विज्ञान, भौतिकी, गणित और अन्य विज्ञानों के सिद्वान्तों का प्रयोग करते हैं। वे मौलिक जैविकीय अनुसंधानों तथा जैव-प्रौद्योगिकी के जरिए प्राप्त ज्ञान को कृषि की उन्नति के लिए लागू करने के लिए अक्सर जैविक वैज्ञानिकों के साथ मिलकर कार्य करते हैं।

कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों के करियर में औसत वृद्धि की तुलना में तेजी की उम्मीद है। विभिन्न सेटिंग्स में काम करने का विकल्प है जैसे- व्यवसाय, विश्वविद्यालय, या सरकार के साथ जुड़ कर आप कार्य कर सकते हैं। कृषि वैज्ञानिक खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में भी काम करते हैं। कृषि उत्पादकता को बढ़ाने तथा कायम रखने में कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किए गए कार्यों की महत्वपूर्ण भूमिका है। कृषि वैज्ञानिक खेती-फसलों तथा पशुओं पर अध्ययन करते हैं तथा उनकी मात्रा तथा गुणवत्ता में सुधार के लिए मार्ग तैयार करते हैं। वे कम श्रम के साथ फसलों की मात्रा और गुणवत्ता में सुधार, कीट तथा खरपतवारों पर सुरक्षित और प्रभावी तरीके से नियंत्रण और मृदा तथा जल संरक्षण में सुधार के उपायों के सुझाव देते हैं। वे कच्चे कृषि माल को उपभोक्ताओं के लिए आकर्षक तथा स्वास्थ्यकर खाद्य उत्पादों में परिवर्तित करने की पद्वतियों से जुड़े अनुसंधान कार्य करते हैं।

कृषि वैज्ञानिकों का काम

कई कृषि वैज्ञानिक मौलिक या अनुप्रयुक्त अनुसंधान तथा विकास के क्षेत्र में कार्य करते हैं। अन्य अनुसंधान और विकास कार्यों का प्रबंधन तथा संचालन करते हैं अथवा उन कम्पनियों में विपणन या उत्पादन कार्यों का प्रबंधन करते हैं जो खाद्य उत्पादों या कृषि रसायनों के उत्पादन, आपूर्ति तथा मशीनरी से जुड़ी हैं। कुछेक कृषि वैज्ञानिक बिजनेस फर्मों, निजी ग्राहकों या सरकार के परामर्शदाता के तौर पर कार्य करते हैं। कृषि वैज्ञानिकों के विशेषज्ञता के क्षेत्र के अनुरूप उनके द्वारा किए जाने वाले कार्यों की प्रकृति में भिन्नता रहती है। जैसे

• पशु पोषण और क्षेत्र फसलों के विषय में अनुसंधान और प्रयोगों का संचालन करना
• खेत फसलों और खेत जानवरों की मात्रा और गुणवत्ता में सुधार करने के तरीके विकसित करना
• नए खाद्य उत्पाद बनाएं और उन्हें संसाधित करने, पैकेज करने और वितरित करने के नए और बेहतर तरीके विकसित करना।
• मिट्टी की संरचना का अध्ययन करना क्योंकि यह पौधे की वृद्धि से संबंधित है।
• वैज्ञानिक समुदाय, खाद्य उत्पादकों और जनता के लिए अनुसंधान निष्कर्षों का संचार करना।

कृषि वैज्ञानिकों के कौशल

शैक्षणिक योग्यता: कृषि वैज्ञानिक बनने के लिए आपको बारवीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी बीएससी कृषि विज्ञान के लिए बुनियादी पात्रता मानदंड है इसके बाद एम.एससी आप कर सकते हैं। कृषि विज्ञान में कृषि विज्ञान, पादप शरीर विज्ञान, नेमाटोलॉजी, बीज प्रौद्योगिकी, मृदा विज्ञान और मृदा संरक्षण, सेरीकल्चर, पशुपालन जैसी शाखाओं में कई विशेषज्ञताएँ प्रदान की जाती हैं। पीएचडी को सभी संगठनों द्वारा पसंद किया जाता है। पी.एच.डी के बाद आपके पास कृषि वैज्ञानिक बनने के लिए किसी अनुसन्धान केंद्र से जुड़ सकते है |

संचार कौशल: संचार कौशल कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। उन्हें तकनीशियनों और छात्र सहायकों सहित, दूसरों के साथ काम करते समय अपनी पढ़ाई की व्याख्या करने और अच्छी तरह से संवाद करने में सक्षम होना चाहिए।

महत्वपूर्ण सोच कौशल: कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों को एक विशिष्ट शोध प्रश्न का उत्तर देने का सबसे अच्छा तरीका निर्धारित करने के लिए अपनी विशेषज्ञता का उपयोग करना चाहिए।

डेटा-विश्लेषण कौशल: कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों को डेटा को समझने और उनके द्वारा पढ़े जाने वाले प्रश्नों के उत्तर प्राप्त करने के लिए मानक डेटा विश्लेषण तकनीकों को लागू करने में सक्षम होना चाहिए।

निर्णय लेने का कौशल: कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों को अपनी विशेषज्ञता और अनुभव का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए करना चाहिए कि क्या उनके निष्कर्षों का खाद्य आपूर्ति, खेतों और अन्य कृषि उत्पादों पर प्रभाव पड़ेगा।

अवलोकन कौशल: कृषि और खाद्य वैज्ञानिक ऐसे प्रयोगों का आयोजन करते हैं जिनमें नमूनों और अन्य आंकड़ों के सटीक अवलोकन की आवश्यकता होती है। कोई भी गलती अनिर्णायक या गलत परिणाम दे सकती है।

एक कृषि वैज्ञानिक कहाँ काम करता है?

कृषि वैज्ञानिक खाद्य निर्माण उद्योग में काम पा सकते हैं। वे कॉलेजों, विश्वविद्यालयों और अनुसंधान संस्थानों में प्रोफेसर के रूप में भी काम कर सकते हैं। प्रबंधन, वैज्ञानिक और परामर्श सेवाएं कृषि और खाद्य वैज्ञानिकों को भी नियुक्त करती हैं।

Connect me with the Top Colleges